Poems

Desh Bhakti Poem In Hindi || जोश भर देने वाली देश भक्ति कविताएं

नमस्कार दोस्तों आज हमने Desh Bhakti Poem In Hindi कविताओं का जोरदार संग्रह शेयर किया है। में उम्मीद करता हूँ की आपको हमारा ये शानदार कलेक्शन जरूर पसनद आएगा। इस पोस्ट पर लिखी कविताओं को आप independence day और Republic day पर अपने दोस्तों के साथ या अपने परिवार के साथ शेयर कर सकते है।

 

Desh Bhakti Poem In Hindi – देशभक्ति पर दिल छू लेने वाली कविताएं 

Patriotic Poems in Hindi

भारत की आरती
देश-देश की स्वतंत्रता देवी
आज अमित प्रेम से उतारती।

निकटपूर्व, पूर्व, पूर्व-दक्षिण में
जन-गण-मन इस अपूर्व शुभ क्षण में
गाते हों घर में हों या रण में
भारत की लोकतंत्र भारती।

गर्व आज करता है एशिया
अरब, चीन, मिस्र, हिंद-एशिया
उत्तर की लोक संघ शक्तियां
युग-युग की आशाएं वारतीं।

साम्राज्य पूंजी का क्षत होवे
ऊंच-नीच का विधान नत होवे
साधिकार जनता उन्नत होवे
जो समाजवाद जय पुकारती।

जन का विश्वास ही हिमालय है
भारत का जन-मन ही गंगा है
हिन्द महासागर लोकाशय है
यही शक्ति सत्य को उभारती।

यह किसान कमकर की भूमि है
पावन बलिदानों की भूमि है
भव के अरमानों की भूमि है
मानव इतिहास को संवारती।

Best Desh Bhakti Kavita

चिश्ती ने जिस ज़मीं पे पैग़ामे हक़ सुनाया
नानक ने जिस चमन में बदहत का गीत गाया
तातारियों ने जिसको अपना वतन बनाया
जिसने हेजाजियों से दश्ते अरब छुड़ाया
मेरा वतन वही है, मेरा वतन वही है

सारे जहाँ को जिसने इल्मो-हुनर दिया था
यूनानियों को जिसने हैरान कर दिया था
मिट्टी को जिसकी हक़ ने ज़र का असर दिया था
तुर्कों का जिसने दामन हीरों से भर दिया था
मेरा वतन वही है, मेरा वतन वही है

टूटे थे जो सितारे फ़ारस के आसमां से
फिर ताब दे के जिसने चमकाए कहकशां से
बदहत की लय सुनी थी दुनिया ने जिस मकां से
मीरे-अरब को आई ठण्डी हवा जहाँ से
मेरा वतन वही है, मेरा वतन वही है

बंदे किलीम जिसके, परबत जहाँ के सीना
नूहे-नबी का ठहरा, आकर जहाँ सफ़ीना
रफ़अत है जिस ज़मीं को, बामे-फलक़ का ज़ीना
जन्नत की ज़िन्दगी है, जिसकी फ़िज़ा में जीना
मेरा वतन वही है, मेरा वतन वही है

Patriotic Poems Hindi Mai – स्वतंत्रता दिवस पर कविता

तुझको नमन मेरे वतन
फूल हम तू है चमन
तेरी रक्षा को करें गमन
तुझसे ही है यह तन मन

आंख जो कोई उठाए
आग दरिया में लगाएं
दुश्मन को दौड़कर भगाए
तिरंगे को हमेशा
चारों दिशाओं में फैलाएं

तेरी खातिर मर भी जाएं
जान पर अपनी खेल जाएं
तुझको नमन मेरे वतन
फुल हम तू है चमन..!

26 january quotes in hindi

होंगे कामयाब,
हम होंगे कामयाब एक दिन
मन में है विश्वास, पूरा है विश्वास
हम होंगे कामयाब एक दिन।

हम चलेंगे साथ-साथ
डाल हाथों में हाथ
हम चलेंगे साथ-साथ, एक दिन
मन में है विश्वास, पूरा है विश्वास
हम चलेंगे साथ-साथ एक दिन।

होगी शांति चारों ओर
होगी शांति चारों ओर, एक दिन
मन में है विश्वास, पूरा है विश्वास
होगी शांति चारों ओर एक दिन।

नहीं डर किसी का आज
नहीं डर किसी का आज एक दिन
मन में है विश्वास, पूरा है विश्वास
नहीं डर किसी का आज एक दिन।

Republic day Wishes in Hindi

आजादी हो गई है बूढ़ी
उम्र हो गई साठ
आज के बच्चे कैसे समझे
देशभक्ति का पाठ

ना कोई बापू ना चाचा
ना इंकलाब का नारा
अब तो युवाओं को भाए
एश सुष्मिता लारा

अंग्रेजों ने भारत छोड़ा
अब हम भारत छोड़े
डॉलर डॉलर रट लगाकर
अमेरिका को दौड़े

कौन बहाए देश की खातिर
अपना खून पसीना
खुद को एनआरआई कहते
तान के अपना सीना

वंदे मातरम भूल गए हम
गाए तेरे सुरूर
जाने किस आजादी की खातिर
इतना करें गुरूर

देश को जकड़े हुए हैं
गरीबी और भ्रष्टाचार
आजादी का फिर भी
मनाए आज हम त्यौहार..!

Happy Independence Day friends! Today, we honor our country and everything it stands for. We are proud to be Indian, and we celebrate our independence with poetry that inspires us to be the best we can be. These poems are written by some of India’s desh bhakti poem in hindi, and they remind us of the importance of patriotism and desh bhakti poem. Let us all remember what it means to be Indian, and let us celebrate this day with joy in our hearts!

Desh Bhakti Poem In Hindi :- आज की हमारी ये पोस्ट ख़ास आप सभी लोगो के आग्रह पर लिखी गई है। काफी लोग देश में 26 जनवरी ,15 अगस्त वाले दिन देश भक्ति कविताएं सर्च करते है। हम उन्ही देश भक्तो की समयस्या का समाधान कर सके इसलिए ये लेख ख़ास आपके लिए लिखा गया है। आप ये आर्टिकल अपने दोस्तों Social Media वे अपने परिवार वालो के साथ शेयर करना ना भूले। धन्यवाद।

 

 

 

 

 

 

 

 

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
error: Content is protected !!