Poems

Top 5+ Ganesh Chaturthi Poem in Hindi – गणेश चतुर्थी पर कविता 2022

आज हमने आप सभी के लिए गणेश चतुर्थी पर गणेशजी पर कुछ लोकप्रिय कविताये लिखी है। जैसा की आप सभी जानते है की गणेश चतुर्थी गणेश जी के जन्म दिन के शुभ उपलक्ष में मनाई जाती है। गणेश जी देवो में सर्वप्रथम पूजे जाने वाले देवताओ में आते है। कोई भी शुभ कार्य होने पर सर्वप्रथम गणेशजी की पूजा की जाती है। और रही बात गणेश चतुर्थी की वो भी अब ज्यादा दूर नहीं है इस साल गणेश जी ये शुभ त्यौहार 31 अगस्त 2022 को बनाया जाएगा। इस दिन सभी अपने घरो में गणेश जी की पूजा अर्चना करते है। महाराष्ट्र में गणेश उत्सव बड़ी धूम धाम के साथ बनाया जाता है। अगर आप को गणेश जी पर शायरी, कोट्स पढ़ने है तो हमने पहले ही आपके लिए ये सभी पोस्ट हमारी वेबसाइट पर कर राखी है। फिलहाल अभी तो हम चलते है हमारी पोस्ट Ganesh Chaturthi Poem in Hindi की और जो हमने ख़ास आप सभी के लिए लिखी है में आशा करता हूँ की आपको हमारा लेख पसंद आएगा। धन्यवाद।

Ganesh Chaturthi Poems in Hindi – गणपती कविता

Poems on Ganesh Chaturthi – श्री गणेश चौपाई

गणपति जी हैं सबके प्यारे,
शिव गौरा के राजदुलारे,
भोली और प्यारी सी सूरत,
सवारी बने हैं उनकी, मूषक
मोदक उनको बहुत हैं भाते,
बड़े प्यार और चाव से खाते,
देवों में वह देव हमारे,
सबसे पहले उनकी पूजा करते हैं सारे,
रिद्धि सिद्धि के हैं दाता,
हम सबके वह भाग्यविधाता,
जो उनकी पूजा है करते,
गणपति उनके विघ्न है हरते,
गणेश चतुर्तिथि जब भी आये,
बड़े प्यार से सब हैं मनायें,
जिनके घर गणेशा जाते,
मंगल ही मंगल सब होता,
दुःख संताप मिटते हैं सारे।

गणेश चतुर्थी पर कविता | Ganesh Chaturthi 2022

हे प्रभु गणेशा, ओ प्रभु गणेशा,
रहना आप साथ मेरे हमेशा,

जब मैं हो जाऊ उदास,
मेरे हृदय में करके वास,
जगा देना मेरा विश्वास,
आप मेरे आस-पास हो
इसका है मुझको अहसास.

हे प्रभु गणेशा, ओ प्रभु गणेशा,
रहना आप साथ मेरे हमेशा,

नाश करना हमारे अभिमान का,
देना दान हमें आप ज्ञान का,
काम ऐसा करें बढ़े मान माँ-बाप का,
खुश रहूँ और जीवन हो सम्मान का.

हे प्रभु गणेशा, ओ प्रभु गणेशा,
रहना आप साथ मेरे हमेशा,

दूसरों की सेवा का व्रत मैं पाल लूँ,
आपकी कृपा से ये जिंदगी सम्भाल लूँ,
आपकी भक्ति की आदत मैं डाल लूँ,
जिन माँ-बाप ने बचपन में सम्भाला मुझे
इतनी ताकत देना कि मैं उनकों सम्भाल लूँ.

हे प्रभु गणेशा, ओ प्रभु गणेशा,
रहना आप साथ मेरे हमेशा,

Ganesh Chaturthi Kavita in Hindi

सब देवन में प्रथम हैं
गणनायक भगवान ।
उनसे ही सब कुछ मिले
रिद्धि सिद्धि धन धान।।
रिद्धि सिद्धि धन धान
लड्डू का भोग लगाना।
श्रीफल भेंट चढाकर
घी का दीप जलाना।।
मंगल करन विघ्नहर्ता
सब जग के स्वामी।
शिव पार्वती तनय
गणनायक अंतर्यामी।

Also Read –

हां तो दोस्तों आपको हमारे माध्यम से लिखा आर्टिकल Ganesh Chaturthi Poem in Hindi पर गणेश कविता पढ़कर केसा लगा ये सभी गणेशजी कविताये हमने आप सभी के लिए लिखी थी ताकि आप गणेश चतुर्थी पर इन सभी Best Ganesh Chaturthi Poems को अपने दोस्तों के साथ शेयर कर सके और गणेश चतुर्थी की बधाई वे शुभकामनाये दे सके। और हां हमे कमेंट में जरूर बताये की आपको हमारा लेख कैसा लगा। धन्यवाद।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
error: Content is protected !!