Sanskrit

Hari Shabd Roop || हरी शब्द के रूप संस्कृत में

Hari Shabd Roop:- नमस्कार दोस्तों आज हम आप सभी के लिए हरी शब्द रूप पर आर्टिकल लाये है। आप सभी को पता है की संस्कृत भाषा में एक शब्द के अनेक रूप होते है और उसी एक शब्द से कई शब्द बना सकते है। अगर आप और भी शब्द रूप के बारे में जानना चाहते है तो आप हमारी पहले की पोस्ट kavi Shabd Roop वे ऐसे ही अन्य शब्द रूप का कलेक्शन आपको हमारी वेबसाइट पर देखने को मिल जाएगा। फिलहाल अभी तो हम जानते है हरी शब्द के रूप के बारे में। मुझे उम्मीद है की आपको हमारी पोस्ट पसंद आएगी। 

Hari Shabd Roop in Sanskrit – हरी शब्द के रूप 

 

विभक्ति एकवचन द्विवचन बहुवचन
प्रथमा हरिः हरी हरयः
द्वितीया हरिं हरी हरीन्
तृतीया हरिणा हरिभ्याम् हरिभिः
चतुर्थी हरये हरिभ्याम् हरिभ्यः
पंचमी हरेः हरिभ्याम् हरिभ्यः
षष्ठी हरेः हर्योः हरीणां
सप्तमी हरौ हर्योः हरिषु
सम्बोधन हे हरे! हे हरी! हे हरयः!

यह भी पढ़े-

Dev Shabd Roop in Sanskrit || देव शब्द रूप संस्कृत में

kavi Shabd Roop in Sanskrit || कवी शब्द के रूप

Path Dhatu Roop in Hindi || पठ् धातु के रूप

हां तो दोस्तों आपको हमारी पोस्ट Hari Shabd Roop पर लिखा आर्टिकल केसा लगा। आप ये लेख अपने छोटे भाइयो को जरूर शेयर करे ताकि विधालय के कार्य में उन्होकी थोड़ी सहायता हो सके। धन्यवाद। 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
error: Content is protected !!