Poems

Sarojini Naidu Poems in Hindi || सरोजिनी नायडू की 10 सर्वश्रेष्ठ कविताएं

नमस्कार दोस्तों आज हम आप सभी के लिए Sarojini Naidu Poems in Hindi पर लेख लाये है इस लेख में आप सभी को एक महान कवियत्री के जीवन के बारे में कुछ अनमोल बाते जानने को मिलेगी जैसा की आप सभी अच्छे से जानते है की सरोजनी नायडू एक महान स्वतंत्रता सेनानी भी रही है ये ऐसी महान कवियत्री हुई की इन्होने अपनी कविताओं के माध्यम से काफी बड़े बड़े पुरस्कार और अवॉर्ड जीते थे। 

सरोजिनी नायडू का जीवन परिचय :- सरोजिनी नायडू का जन्म 13 फरवरी 1879 में हैदराबाद में एक गरीब परिवार में हुआ था ये एक महान कवियत्री और स्वतंत्रता संग्राम सेनानी थी इन्होने अपने जीवन में अनेखो कविताएं लिखी जिसमे से ज्यादातर कविताये ये बच्चो पर लिखी हुई है क्योकि बच्चो से हमेशा से इन्होका अहम लगाव रहा है तो आइये जानते है इस महान कवियत्री की sarojini naidu hindi poems के बारे में हम उम्मीद करते है की आपको हमारा लेख पसंद आएगा।

सरोजिनी नायडू कविता हिंदी में – Sarojini Naidu Poems in Hindi

 

भारत माँ  ने  अपनी  कोख  से, कवियत्री को जन्म दिया।

नाम  सरोजनी   नायडू   देकर, देश का ऊँचा नाम किया।।

शीश झुकाओ आकर सब कोइ, भारत  माँ  के  राज  को।

वंदन  व  अभिनन्दन  कर  लें, हिन्द ए कोकिला ताज को।


राज्यपाल  थीं  बनीं  प्रथम  वो, भारत  की  महिलाओं में।

उत्तर प्रदेश की शासक बनकर, नाम लिखाया शासकों में।।

केसरे हिन्द  की  पदवी  मिली, नमन  उसी   सरताज़  को।

वंदन  व  अभिनन्दन  कर  लें, हिन्द ए कोकिला ताज को।।


कवियत्री के रूप  में  आपको, ख्याति मिली थी दुनिया में।

एक से बढ़कर  एक  थी  रचना, झील की रानी कविता में।।

भारत  भूमि  में  गूंज  रही  उस, कोकिला की आवाज को।

वंदन  व  अभिनन्दन  कर  लें, हिन्द ए कोकिला ताज को।।


जब अत्याचार होता है, केवल आत्म-सम्मान 

की बात उठती है और कहते हैं कि यह आज

 समाप्त हो जाएगा, क्योंकि मेरा अधिकार न्याय है।


भारत देश है हमारा बहुत प्यारा,

सारे विश्व में है यह सबसे न्यारा,

अलग-अलग हैं यहां सभी के रूप रंग,

पर सुर सब एक ही गाते,

झंडा ऊंचा रहे हमारा,

यह भी पढ़े- Harivansh Rai Bachchan Poems || डॉ हरिवंश राय बच्चन की प्रसिद्ध कविताये


हर परदेश की है यहाँ अलग एक जुबान,

पर मिठास कि है सभी में शान,

अनेकता में एकता को पिरोकर,

सबने हाथ से हाथ मिलाकर देश संवारा,


लगा रहा है अब भारत सारा,

“हम सब एक हैं” का नारा,

भारत देश है हमारा बहुत प्यारा,

सारे विश्व में है यह सबसे न्यारा||


बदलता नहीं अगर कु,

तो मैं लक्ष्य नहीं बदलता हूं,

उसे पाने का पक्ष नहीं बदलता हूं|


हर परदेश की है यहाँ अलग एक जुबान,

पर मिठास कि है सभी में शान,

अनेकता में एकता को पिरोकर,

सबने हाथ से हाथ मिलाकर देश संवारा,

sarojini naidu poem in hindi


लगा रहा है अब भारत सारा,

“हम सब एक हैं” का नारा,

भारत देश है हमारा बहुत प्यारा,

सारे विश्व में है यह सबसे न्यारा


यह भी पढ़े-

Munshi Premchand Poems in Hindi || मुंशी प्रेमचंद की 5 लाजवाब कविताएं

 

Sarojini Naidu was a famous poet and playwright, as well as an Indian independence activist. Sarojini Naidu poems are known for their beautiful language and imagery. Sarojini Naidu was born in Hyderabad, India, and her poetry often reflects her Indian heritage. Sarojini Naidu wrote many poems in Hindi, as well as other languages.

Sarojini Naidu’s poetry is still popular today, and her work continues to inspire readers all over the world. sarojini Naidu Poem in Hindi are a must-read for anyone interested in Indian poetry or literature. Sarojini Naidu Hindi Poems was a true pioneer, and her work is still relevant today.

दोस्तों में उम्मीद करता हूँ की आपको हमारी पोस्ट Sarojini Naidu Poems in Hindi पर लिखा लेख पसंद आया होगा। ये लेख ख़ास आप सभी के लिए लिखा गया है जिससे आप इन महान कवियत्री के बारे में जान सको और हां आप ये सरोजिनी नायडू की कविता इन हिंदी अपने छोटे भाई और अन्य दोस्तों वे Social Media पर शेयर करना न भूले धन्यवाद।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
error: Content is protected !!