Shayari

Shayari on Father in Hindi || पिताजी के लिए 40+ स्टेटस

नमस्कार, दोस्तों आज हम आप सभी के लिए पिताजी पर स्टेटस का लाजवाब संग्रह लाये है। इस पोस्ट में आपको Shayari on Father In Hindi पर एक से एक स्टेटस देखने को मिलेंगे। दोस्तों आप ही नहीं हम सब भी अपने पापा से बेहद मोहब्बत करते है। और हमको पता है की एक पिता को अपने परिवार को पालने के लिए कितनी कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है। छाय धुप हो या छाया केसा भी मौसम हो एक पिता हमेशा अपनी जिम्मेदारी से मुँह नहीं मोड़ता वे हमेशा अपनी जिम्मेदारी निभाने के लिए तट पर रहता है। 

दोस्तों अगर एक पिता अपना फर्ज निभा रहा है तो एक बेटे होने के कारण आपको भी अपना फर्ज निभाना चाइये। हर साल 20 जून को फादर डे बनाया जाता है। इस दिन आप सभी अपने पिता जी को कुछ मजेदार शायरी स्टेटस भेजकर Father day की बधाईया दे सकते हो। आपका कीमती समय बर्बाद किये बिना हम अपनी पोस्ट की और चलते है।

पिताजी पर स्टेटसShayari on Father In Hindi

Papa par Shayari in Hindi

नसीब वाले हैं जिनके सर पर पिता का हाथ होता है,
जिद भी पूरी होती है अगर पिता का साथ होता है।

धरती सा धीरज दिया और आसमान सी ऊंचाई है,
जिंदगी को तरस के खुदा ने ये तस्वीर बनाई है।
हर दुख वो बच्चों का खुद पर सह लेते हैं,
उस खुदा की जीवित प्रतिमा को हम पिता कहते हैं।

एक बात हमेशा याद रखनी चाहिए,
जीवन में पिता का स्थान प्रभु से कम नहीं है।
पिता सदा हमारा ध्यान रखते हैं और निस्वार्थ प्यार करते हैं।

वो हाथ सिर पर रख दें तो आशीर्वाद बन जाता है,
वो रोते हैं तो हमारा भी दिल दुख जाता है।
पिता का दिल कभी न दुखाना, उनका तो झूठन भी प्रसाद बन जाता है।

Best Father Day Quotes Hindi Mai

नसीब वाले है जिनके सर पर पिता का हाथ होता है,
ज़िद भी पूरी होती है अगर पिता का साथ होता है।

मेरे अजीज हो आप,
मेरे सबसे अच्छे दोस्त हो आप,
हर इच्छा पूरी करने वाले,
खुदा से बढ़कर हो पापा आप।

मेरी दुनिया में आज जो इतनी,
दौलत शोहरत और इज्जत है,
वो मेरे पापा के बदौलत है।

मुझे नहीं पता ऊपर वाले ने
तकदीर में क्या लिखा है,
जब मुस्कुराते है मेरे पापा मुझे देख कर
समझ जाता हूँ कि मेरी तकदीर बुलंद है।

दुनिया में लाखों चलते है साथ में,
लेकिन जो मेरे हर सुख दुख में,
साथ है वो मेरे पिता है।

Father Shayari in Hindi

जो मजा पापा के कंधों पर झूलने में आता था,
वो मजा पार्क के झूलों में कहां है।

जिन्होंने मेरे बेरंग जीवन में,
अपने खून-पसीने से खुशियों के रंग भरे हैं,
बुढ़ापे में उनका सहारा बनकर,
शायद उनकी जिंदगी में मैं दोबारा रंग भर पाऊंगा।

जब तक पिता का रहता है साथ,
जिंदगी में नहीं पकड़ना पड़ता किसी का हाथ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
error: Content is protected !!