Poems

Self Motivation Poem Hindi | 5 सर्वश्रेष्ठ मोटिवेशनल कविताये

दोस्तों हमे हमारे जीवन में आगे भड़ने के लिए कदम कदम पर मोटिवेशन की जरुरत पड़ती रहती है कभी कभी हमारी ज़िंदगी में ऐसे भी मोड़ आते है जब हम हर चीज से हार मान लेते है हमारा मन उस काम को करने में जवाब दे देता है और सही मायने में देखा जाए जो उस समय हमे हार नहीं माननी चाहिए क्योकि वही एक समय होता है तब आपको थोड़े मोटिवेशन की किसी के साथ की जरुरत होती है अगर ऐसा होता है वो बेशक आप अपनी लाइफ में हर मंजिल को पार कर जाओगे और आने वाले समय में ये मोटिवेशन आपको एक सफल इंसान की गिनती में ला कर खड़ा कर देगा। 

आज हम आप सभी के लिए हमरी पोस्ट पर Self motivation Poem Hindi पर लेख लाये है अगर आप ज़िंदगी में कभी भी खुद को अकेला पाते हो तो ये मोटिवेशनल कविताये आपको उस दुखद समय से बहार निकाल लाएगी। तो आइये चलते है हमारी पोस्ट की और मुझे उम्मीद है की आपको हमारा आर्टिकल पसंद आएगा।

Self Motivation Poem Hindi – बेस्ट मोटिवेशनल कविताये 

लहरों से डर कर नौका पार नहीं होती।
कोशिश करने वालों की हार नहीं होती।।

नन्हीं चींटी जब दाना लेकर चलती है।
चढ़ती दीवारों पर, सौ बार फिसलती है।।
मन का विश्वास रगों में साहस भरता है।
चढ़कर गिरना, गिरकर चढ़ना न अखरता है।।
आख़िर उसकी मेहनत बेकार नहीं होती।
कोशिश करने वालों की हार नहीं होती।।

डुबकियां सिंधु में गोताखोर लगाता है।
जा जा कर खाली हाथ लौटकर आता है।।
मिलते नहीं सहज ही मोती गहरे पानी में।
बढ़ता दुगना उत्साह इसी हैरानी में।।
मुट्ठी उसकी खाली हर बार नहीं होती।
कोशिश करने वालों की हार नहीं होती।।

असफलता एक चुनौती है, स्वीकार करो।
क्या कमी रह गई, देखो और सुधार करो।।
जब तक न सफल हो, नींद चैन को त्यागो तुम।
संघर्ष का मैदान छोड़ मत भागो तुम।।
कुछ किये बिना ही जय जय कार नहीं होती।
कोशिश करने वालों की हार नहीं होती।।

Self Motivation Poem Hindi mai 

वृक्ष हों भले खड़े,
हों घने हों बड़े,
एक पत्र छाँह भी,
माँग मत, माँग मत, माँग मत,
अग्निपथ अग्निपथ अग्निपथ।
तू न थकेगा कभी,
तू न रुकेगा कभी,
तू न मुड़ेगा कभी,
कर शपथ, कर शपथ, कर शपथ,
अग्निपथ अग्निपथ अग्निपथ।
यह महान दृश्य है,
चल रहा मनुष्य है,
अश्रु श्वेत रक्त से,
लथपथ लथपथ लथपथ,
अग्निपथ अग्निपथ अग्निपथ।

Self Motivation Hindi kavita

 

तुझसे मिलने में मुझे अभी वक़्त लगेगा, ऐ कमयाबी तू रूठना मत !
कुछ वक़्त खर्च होगा ज़िम्मेदारियाँ निभाने में,
कुछ वक़्त लगेगा इरादों को मज़बूत बनाने में,
कुछ वक़्त लगेगा तुझ तक आने में,
हो सके अगर, ऐ कामयाबी तू रूठना मत !!

मैं जानता हूँ तू मेरे लिए रुक नहीं सकती,
मेरी बातों में आकर तू फस नहीं सकती,
तू मेरे अलफ़ाज़ नहीं, मेहनत की आवाज़ समझती है,
मुझसे दूर होकर भी तू मुझे हर रोज़ परखती है,
जब मिलेंगे हम, तो थोड़ा रोकर और थोड़ा हस कर दिखाऊंगा,
टूटते- टूटते संभलने के हजारों किस्से सुनाऊंगा,
हो सके अगर, ऐ कामयाबी तू रूठना मत !!

मेरी कोशिशों को पहचान मिलना अभी बाकी है,
मेरे पागलपन का इम्तेहान अभी बाकी है,
पर मुझ में तुझे पाने का जज़्बा बहुत है,
तुझसे मिलने का ख्वाब मेरा पूरा होना अभी बाकी है !!
खुद से जो किया है वादा वो मैं ज़रूर निभाऊंगा,
तू मुझसे नाराज़ हो जाना मैं तुझे अपनी मेहनत से मनाऊंगा !!
तू ठिकाने बदलती रहना, मैं तुझ तक पहुँच कर दिखाऊंगा,
तू बीएस थोडा सब्र रखना, हो सके तो मेरी चाहत की कद्र रखना,
बस ऐ कामयाबी तू रूठना मत, ऐ कामयाबी तू रूठना मत !!

रामधारी सिंह दिनकर मोटिवेशनल कविता – Best Kavi kavita

वह प्रदीप जो दीख रहा है झिलमिल, दूर नहीं है;
थककर बैठ गये क्या भाई! मंजिल दूर नहीं है।

चिनगारी बन गई लहू की
बूँद गिरी जो पग से;
चमक रहे, पीछे मुड़ देखो,
चरण – चिह्न जगमग – से।
शुरू हुई आराध्य-भूमि यह,
क्लान्ति नहीं रे राही;
और नहीं तो पाँव लगे हैं,
क्यों पड़ने डगमग – से?
बाकी होश तभी तक, जब तक जलता तूर नहीं है;
थककर बैठ गये क्या भाई! मंजिल दूर नहीं है।

अपनी हड्डी की मशाल से
हॄदय चीरते तम का,
सारी रात चले तुम दुख
झेलते कुलिश निर्मम का।
एक खेय है शेष किसी विधि
पार उसे कर जाओ;
वह देखो, उस पार चमकता
है मन्दिर प्रियतम का।
आकर इतना पास फिरे, वह सच्चा शूर नहीं है,
थककर बैठ गये क्या भाई! मंजिल दूर नहीं है।

दिशा दीप्त हो उठी प्राप्तकर
पुण्य-प्रकाश तुम्हारा,
लिखा जा चुका अनल-अक्षरों
में इतिहास तुम्हारा।
जिस मिट्टी ने लहू पिया,
वह फूल खिलायेगी ही,
अम्बर पर घन बन छायेगा
ही उच्छवास तुम्हारा।
और अधिक ले जाँच, देवता इतना क्रूर नहीं है।
थककर बैठ गये क्या भाई ! मंजिल दूर नहीं है।

Munshi Premchand Motivational Poem – कर्मभूमि

अब क्रांति में ही,
देश का उद्धार है,

ऐसी क्रांति,
जो सर्वव्यापक हो,

जो जीवन के,
मिथ्य आदर्शों का,
हूट सिद्धांतों और परीपाटियो का,
अनंत कर दे,

जो एक नए युग का प्रवतर्क हो,
एक नई सृष्टि खड़ी कर दें,

जो मनुष्य को,
धन और धर्म के,

आधार पर टिकने वाले,
राज्यों के पंजे से मुक्त कर दे|

Read Best Short Self Motivation Poem Hindi

Motivation poem Hindi is the key to success. If you want to achieve something in life, you have to be a Self Motivation poem Hindi, Short self motivation poem Hindi,  There are no shortcuts to success, and if you want to achieve something great, you have to be willing to put in the hard work.

There are many ways to stay motivated, and one of them is by reading motivational poems. short Self Motivation poems can be very inspirational, and they can help you see the beauty in life, even when things are tough.

दोस्तों में उम्मीद करता हूँ की आपको हमरी पोस्ट Self motivation Poem Hindi पर लिखी मोटिवेशनल कविताएं पसंद आई होगी। यह कविताए आप सभी के लिए बड़े प्यार से महान कवियों के माध्यम से लिखी गई है आप मोटिवेशनल कविता हिंदी में, सेल्फ मोटिवेशन पोएम हिंदी, इन्होको Social Media पर वे अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करे ताकि वे भी इन महान कवियों के बारे में जान सके। धन्यवाद।

 

To win at online casino Australia, you should learn a few strategies that are commonly used by experienced players. Online casino operators study betting patterns of customers and make adjustments to their strategies based on this information. According to no download casino, In addition, you can participate in tournaments and observe betting strategies used by professionals. You can then apply these strategies to your playing to increase your chances of winning. You should practice these strategies before you play for real money. In this way, you can improve your chances of winning in online casinos.

O governo brasileiro vem implementando regulamentações desde 2010. Em janeiro, o Senado nomeou um novo Secretário Parlamentar, Sergio Ricardo Calderini Rosa, um conhecido liberal, para supervisionar as novas leis do jogo. Se você verificar casinos online brasileiros de confiança 2022 Por causa de sua visão liberal, o governo indicou o desejo de implantar o regulamento o mais rápido possível. É possível que o ICE seja adiado até abril e que o SECAP tenha mais tempo para aperfeiçoar o regulamento. Espera-se que a nova lei seja aprovada antes ou no dia da principal exposição mundial de apostas e jogos em Londres.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
error: Content is protected !!